Twitter

बैंक का ग्राहक सेवा केन्‍द्र खोलिये और 30000 रूपये महीना कमाइये

अाज में अापके लिये एक अॉफलाइन काम लेकर अाया हूॅ जिससे अाप कम से कम 30000 रूपया महीना कमा सकते हो। लेकिन काम जिम्‍मेदारी का है। काम है नरेन्‍द्र मोदी के प्राथमिकता वाली जनधन योजना से जुडने का। इस काम के लिये अाप को किसी भ्‍ाी बैंक या एससीए कम्‍पनी से सम्‍पर्क कर बैंक मित्र बनना होगा। काम ऑफलाइन जरूर है लेकिन करने में बहुत ही मजा है। आैर उतना ही पैसा भी ।

 

क्‍या करना होगा।

1- सबसे पहले किसी बैंक या कम्‍पनी(वयम टैक, फिया ग्‍लोबल, ऑक्‍सीजन, सहज)  से जुडकर आपको बैंक मित्र बनना होगा। यह प्रकिया काफी अासान हैं।

2- फिर अपना एक आॅफिस खोलना होगा। जिस पर बाहर बैक का नाम लिखा होगा।

3- यहॉ पर आप बैठै कर आराम से बैंकिग कार्य करते रहिये अौर पैसा कमाते रहिये।

 

बैंकिग काम में क्‍या क्‍या कर सकते हो।

 

1-  सभी वो काम जो एक बैंक करती है (जैसे खाते ख्‍ाोलना, जमा, निकासी, आरडी, एफडी,धनराशि की जॉच, बीमा)

 

कैसे  पैसा कमा सकते हो।

 

किस काम में कितना कमीशन मिलेगा

साधारण रूप से खाता खोलने पर - 20 रूपये प्राति ख्‍ााता

आधार कार्ड से खाता खोलने पर -   25 रूपये प्रति खाता

जमा निकासी                           -  0.40 प्रतिशत प्रति जमा/निकासी

प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना पर - 30 रूपये प्रति खाता 

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना पर            -  1 रूपया प्रति ख्‍ााता

(नोट:- यह कमीशन बैंक अॉफ बडौदा के अनुसार है  अन्‍य बैंक का कमीशन इससे भिन्‍न हो सकता है)

 

 

आप सोचिये अगर आप रोजाना 20 खाते आधार लिंक से खोलते हैं

 

तो अापकी एक दिन की इनकम 500 रूपये होगी अौर एक महीनें की इनकम 15000

 

इसी तरह अगर अाप ने रोजाना 10 लोगों के प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति  बीमा किये तो आपकी एक महीने की इनकम 9000 रूपये होगी। अौर रोजाना एक लाख रूपये की जमा निकासी करनें पर एक महीने की इनकम 12000 रूपये होगी। यानी आप एक महीने में कुल 31000  रूपये बडी आसानी से कमा सकते हो। इसके अतिरिक्‍त कुछ बैंक तो अपने बैंक मित्र को नियमित रूप से तनख्‍वाह भी देती हैं।

 

 तो देर किस बात की जुड जाइये प्रधान मंत्री जनधन योजना के साथ 

 

Share on Google Plus

About Arjun kotri

तुम जानते हो मेरी जिंदगी की सबसे किमती चीज क्या है बस इस STATUS का पहला लफ्ज.....💝
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();